May 25, 2024
Badam Ka Ped

Badam Ka Ped

नमस्कार दोस्तों आपका स्वागत है हमारी वेबसाइट उपयोगी डॉट कॉम में, दोस्तों आज का टॉपिक हम पर्यावरण के प्रति जागरूक व्यक्ति के लिए लेकर आए हैं, आज का टॉपिक Badam Ka Ped कैसा होता है और आप इसे अपने बगीचे में कैसे लगाएं इस टॉपिक पर हम आज बात करेंगे।

जैसा कि आपको पता ही होगा कि बदाम को इंग्लिश में Almond कहते हैं, यह एक प्रकार का ड्राई फ्रूट होता है जो हमारे लिए काफी लाभदायक होता है। बदाम खासकर हमारे मानसिक स्वास्थ्य के लिए सबसे अच्छा होता है।

Badam Ka Ped Kaisa Hota Hai

ड्राई फूड इंडस्ट्री में बदाम का अपना एक महत्वपूर्ण स्थान है, बदाम का उपयोग खाने के अलावा मिठाई में भी किया जाता है। लोग सर्दियों में बादाम के लड्डू बनाते हैं जो कि उनके स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छे होते हैं। डॉक्टर बताते हैं बादाम के तेल का उपयोग बालों और दिमाग के लिए काफी लाभकारी होता है।

दोस्तों बदाम का पेड़ देखने में पतला और लंबा होता है, इसका बीच का भाग पतला एवं इसका ऊपरी भाग मोटा होता है। बादाम के पेड़ में गुलाबी व सफेद रंग के सुगंधित फूल लगे होते हैं। इसका तना मोटा होता है, और इसके पत्ते लंबे चौड़े और मुलायम होते हैं, तथा इस पेड़ की ऊंचाई लगभग 5 से 10 मीटर लंबी होती है। इस फल के अंदर मिंगी (गिरी) को बदाम कहते हैं। बदाम का पेड़ सर्वाधिक पर्वतीय क्षेत्रों में पाया जाता है।

Badam Ka Ped Kaise Lagaye

दोस्त बदाम का पेड़ लगाने के लिए आपको इन खास पांच बातों पर ध्यान देना अवश्य है जो कि इस प्रकार हैं:-

  • बादाम का पेड़ उचित जगह पर लगाएं
  • बादाम के लिए सही वातावरण चुने
  • पर्याप्त मात्रा में पानी दे
  • पर्याप्त मात्रा में धूप का लगने दे
  • कीटनाशक दवाइयों का छिड़काव न करे

दोस्तों जैसा कि आपने अब पढ़ लिया होगा कि बदाम का पेड़ कैसा होता है, तो अब हम जानते हैं कि बदाम का पेड़ कैसे लगाएं दोस्तों बादाम का पेड़ लगाने से पहले आप टेंपरेचर को पता कर ले मतलब बदाम का पेड़ हल्की गर्मियों में गर्मियों में या गीली सर्दियों में सबसे अच्छा बढ़ता है, बदाम का पेड़ लगाने के लिए आपको 15 डिग्री से लेकर 30 डिग्री के बीच का तापमान की जरूरत होगी |दोस्तों जिस देश में बहुत कम वर्षा होती है वहां पर बदाम का पेड़ को लगाना बहुत ही आसान होता है

दोस्तों बदाम का पेड़ लगाने के लिए आपके पास दो विकल्प उपस्थित हैं :- पहला आप इसके बीज से बदाम का पेड़ लगा सकते हैं और दूसरा इसके पौधे से आप बदाम का पेड़ लगा सकते हैं।

बादाम का पेड़ घर पर कैसे लगाएं? दोस्तों आप बदाम का पेड़ घर में लगा सकते हैं, बादाम के पेड़ को आप अपने घर के बगीचे में भी होगा सकते हैं, “यदि आप बदाम के पेड़ को अपने घर में लगाना चाहते हैं” तो आपको एक खास बात का ख्याल रखना होगा, दोस्तों जो बदाम आप अपने घर में लगा रहे हैं उसे आप चेक कर ले कि वह मीठा है या कड़वा, क्योंकि दोस्तों जब आप अपने घर के बगीचे में बदाम का पेड़ लगाएंगे तो उसमें उगने वाला फल भी वैसा ही होगा जैसा कि आपने उसे को उगाया है

यदि आपने बदाम का पेड़ का बीज कड़वा वाला बोया होगा तो आपका फल भी कड़वा ही आपको प्राप्त होगा, और यदि आपने बादाम का पेड़ का बीज मीठा वाला बोया होगा तो आपको फल मीठा ही प्राप्त होगा।

Tips:- दोस्तों एक पौधे की तुलना में बीज द्वारा लगाए जाने वाला पेड़  थोड़ा ज्यादा समय में उगेगा। 

इसलिए आप अपने नजदीकी नर्सरी से बदाम का पौधा ले आए और फिर उसे अपने बगीचे में लगाएं और एक बात का खास ध्यान रखें बादाम का पेड़ आप शाम के वक्त ही लगाएं।

दोस्तों बादाम का पेड़ आप अपनी बगीचे में ऐसी जगह पर लगाएं जहां पर ज्यादा धूप पढ़ती हो क्योंकि बदाम का पेड़ ऐसी जगह बहुत अच्छे से पनपता है जहां पर ज्यादा धूप पड़ती है।

हमारे दर्शकों के लिए एक खास टिप बदाम का पेड़ जमीन में लगाने से पूर्व आपको बदाम के पेड़ को किसी गमले में लगाकर कुछ दिन के लिए छोड़ दें तथा कुछ दिन के पश्चात आप बदाम के पौधे को गमले में से निकालकर किसी ऐसे स्थान पर रखें जहां पर ज्यादा धूप पढ़ती हो और ध्यान रहे कि जिस जगह आप बदाम के पौधे को लगा रहे हैं उस जगह पानी निकलने का अच्छा बंदोबस्त हो क्योंकि पानी जमा होने से आप के पौधे की जड़ खराब भी हो सकती हैं और आपका बादाम का पौधा खराब हो सकता है।

Read Also: Scientific Name of Cow in Hindi | गाय का वैज्ञानिक नाम क्या है?

दोस्तों बदाम का पौधा लगाने के बाद आपको पौधों पर कभी भी कीटनाशक दवाइयों का छिड़काव ना करें यदि आप ऐसा करते हैं तो आप का पौधा सूख जाएगा और आपकी सारी मेहनत खराब हो जाएगी, इसलिए आप यह ध्यान रखें कि आप किसी भी प्रकार की कीटनाशक दवाइयों का छिड़काव बदाम के पौधे पर ना करें।

Badam Ka Ped : फल कैसा होता है

दोस्तों Badam Ka Ped का फल लगभग 3 से 7 सेंटीमीटर तक लंबा होता है। इसके फल के ऊपर अर्थात बहार एक कठोर आवरण होता है या खोल होता है जो बादाम को सुरक्षित रखता है या ढक कर रखा है दोस्तों बदाम के फल के छिलके को हटाने के बाद उसमें से जो गिरी निकलती है उसे हम बादाम कहते हैं।

दोस्तों आर्टिकल में हमने आपको यह बताया था कि बादाम दो प्रकार का होता है एक मीठा और एक कड़वा, दोस्तों जो बाजार में बादाम का तेल मिलता है वह कड़वे बदाम से निकाला जाता है और बाजारों में पाए जाने वाला बदाम अधिकतर बिना छिलके का ही होता है, जीसे हम बजारी भाषा में बदाम गिरी कहते हैं और यह खाने में मीठा होता है, तथा इसे हम ड्राई फ्रूट के रूप में व मिठाई में उपयोग करते हैं।

Read Also: kachhua kya khata hai | kachua ko kya khilaye पूरी जानकारी [2023]

बादाम का पेड़ घर में लगाने से क्या होता है?

दोस्तों यदि आप के घर में बादाम का पेड़ है या आप इसको अपने घर के बगीचे में उगाने की सोच रहे हैं तो बता दें कि इस पेड़ को उगाने से आपको क्या फायदा मिल सकता हैदोस्तों यदि आप अपने घर में बदाम का पेड़ लगाते हैं तो इसके अनेक फायदे हैं जिससे आपको काफी हद तक लाभ पहुंचेगा।

 Badam Ka Ped : Advantage

  • बदाम शरीर की ऊर्जा को बढ़ाने के लिए काम आता है।
  • वजन कम करने के लिए बादाम का पेड़ काफी उपयोगी माना जाता है।
  • कैंसर जैसी बड़ी बीमारियों से बचने के लिए बदाम का उपयोग किया जाता है।
  • बदाम खाने से आपकी याददाश्त बढ़ती है और चीजों को याद रखने में आसानी होती है।
  • शुगर के रोगी के लिए बादाम काफी फायदेमंद होता है, और मरीज के शुगर को कंट्रोल में रखा है।
  • बादाम आपके हार्ट के लिए काफी फायदेमंद होता है, ऐसा कई वैज्ञानिक के द्वारा कहां जा चुका है।
  • यदि बादाम को थोड़े समय के लिए पानी में भिगो कर खाते हैं तो यह हमारे पाचन तंत्र को काफी मजबूत करता है।
  • यदि बादाम को थोड़े समय के लिए पानी में भिगो कर खाते हैं तो यह हमारे पाचन तंत्र को काफी मजबूत करता है।
  • आंखों के लिए काफी फायदेमंद होता है, जिनको आंखों की बीमारी होती है यह दूर करने में काफी उपयोगी माना जाता है।
  • बदाम का पेड़ आपके बगीचे में लगा हुआ है तो यह आपको साफ व शुद्ध ऑक्सीजन प्रदान करेगा जो की आपके स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा है।
  • बादाम में बहुत सारी एंटी ऑक्सीडेंट मिनरल्स पाए जाते हैं जोकी हार्ट से जुड़ी सारी खतरनाक बीमारियों को दूर रखने के लिए हमारी सहायता करता है।

 Badam Ka Ped : Disadvantage

  1. गर्भवती महिला बादाम का सेवन ना करें।
  2. जिसको बादाम खाने से एलर्जी हो जाती है वह लोग इसका सेवन ना करें।
  3. बादाम का अधिक मात्रा में सेवन ना करें इससे पेट की समस्या हो सकती है।
  4. बादाम का अधिक मात्रा में सेवन करने से आपके पाचन तंत्र भी बिगड़ सकता।
  5. अधिक मात्रा में बादाम का सेवन करने से आपको कुपोषण की समस्या हो सकती है।
  6. बदाम का अधिक मात्रा में सेवन करने से आपको कॉन्स्टिपेशन का शिकार हो सकते हैं।
  7. अधिक मात्रा में बादाम का सेवन करने से आपके पेट में गैस की समस्या उत्पन्न हो सकती है
  8. बदाम का अधिक सेवन करने से आपकी किडनी में पथरी हो सकती है अतः आप निश्चित मात्रा में इसका सेवन करे।
  9. बादाम को अधिक मात्रा में खाने से आपको एलर्जी भी हो सकती है इसलिए आप निश्चित मात्रा में इसका सेवन करें।
  10. बादाम में विटामिन ई की मात्रा अधिक होती है यदि आप इसका सेवन अधिक करते हैं तो आपके शरीर में विटामिन असंतुलित हो जाएंगे।

Conclusion: Badam Ka Ped

दोस्तों बदाम का पेड़ हमारे शास्त्रों के अनुसार अच्छा माना गया है, दोस्तों यदि आपके घर में बादाम का पेड़ है तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा होता है और इतना ही नहीं यदि आप बादाम का सेवन निश्चित मात्रा में करते हैं तो आपका स्वास्थ्य अच्छा रहता है।

दोस्तों Badam Ka Ped के ऊपर हमारी यह जानकारी आपको यदि अच्छी लगी हो तो आप अपने मित्रों के साथ साझा अवश्य करें जिससे सभी को बदाम खाने के फायदे व नुकसान जानने में मदद हो।